Pidilite Industries • Goldman Sachs

Goldman Sachs द्वारा स्टॉक अपग्रेड करने से Pidilite Industries 6% से अधिक बढ़ी

हाल ही में एक अग्रणी adhesive निर्माता पिडिलाइट इंडस्ट्रीज के शेयर मूल्य में 6.3% की उल्लेखनीय वृद्धि देखी गई, जो 31 अक्टूबर को 2,450 रुपये के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई। कारण? वैश्विक ब्रोकरेज फर्म Goldman Sachs द्वारा एक बड़ा अपग्रेड, जिसने अपनी रेटिंग को ‘बिक्री’ से ‘खरीद’ में स्थानांतरित कर दिया और प्रति शेयर 2,725 रुपये का लक्ष्य मूल्य निर्धारित किया। यह विकास ऐसे समय में हुआ जब एसएंडपी बीएसई सेंसेक्स में 0.3% की मामूली गिरावट देखी गई, जो सुबह 11:50 बजे तक 194 अंक गिरकर 63,918 के स्तर पर आ गया।
Pidilite Industries

सकारात्मक गति का एक सप्ताह: सेंसेक्स में गिरावट के बीच पिडिलाइट इंडस्ट्रीज को 4% का लाभ हुआ

पिछले सप्ताह के दौरान, चिपकने वाली विनिर्माण कंपनी पिडिलाइट इंडस्ट्रीज अपने स्टॉक मूल्य में उल्लेखनीय 4% की वृद्धि हासिल करने में सफल रही। यह उपलब्धि विशेष रूप से सामने आती है, जब इसकी तुलना इसी अवधि के दौरान सेंसेक्स बेंचमार्क में देखी गई 1% की गिरावट से की जाती है। कंपनी का शेयर लगातार ऊपर की ओर बढ़ रहा है, जिससे निवेशकों का ध्यान आकर्षित हो रहा है।

Goldman Sachs की उन्नत रेटिंग और पिडिलाइट इंडस्ट्रीज के लिए आगे की राह

प्रसिद्ध वैश्विक ब्रोकरेज फर्म Goldman Sachs ने पिडिलाइट इंडस्ट्रीज की स्टॉक रेटिंग को ‘बेचें’ से ‘खरीदें’ तक अपग्रेड करके हलचल मचा दी। Goldman Sachs के विश्लेषकों ने अपने निर्णय में अंतर्दृष्टि प्रदान करते हुए कहा कि “पिडिलाइट इंडस्ट्रीज की कमाई में गिरावट का चक्र अब पीछे छूट गया है। भारत के सबसे बड़े adhesive निर्माता के लिए विकास के नए अवसर उभर रहे हैं। हम पिडिलाइट इंडस्ट्रीज की कमाई के अनुमान को 4/8% तक संशोधित कर रहे हैं।” FY25/26 के लिए नए विकास उत्पादों से अपेक्षित उच्च राजस्व और कम इनपुट लागत से प्रेरित परिचालन लाभ मार्जिन में सुधार के कारण।”

इसके अतिरिक्त, ब्रोकरेज फर्म ने कंपनी के ऑपरेटिंग प्रॉफिट मार्जिन के बारे में आशावाद व्यक्त किया, और वित्त वर्ष 2023 में इसके 16.1% से बढ़कर वित्त वर्ष 26 में 23.1% होने का अनुमान लगाया। हालाँकि, उन्होंने आगाह किया कि गृह निर्माण में मंदी या बढ़ती कमोडिटी लागत जैसी संभावित बाधाएँ कंपनी के मार्जिन प्रक्षेपवक्र को प्रभावित कर सकती हैं।

अनुमानित Q2 परिणाम: पिडिलाइट इंडस्ट्रीज के लिए आगे क्या है

कंपनी 8 नवंबर को वित्तीय वर्ष 2023-24 (Q2FY24) की जुलाई-सितंबर तिमाही के लिए अपने वित्तीय प्रदर्शन का अनावरण करने के लिए तैयार है। कोटक इंस्टीट्यूशनल इक्विटीज के विश्लेषकों ने अनुमान लगाया है कि पिडिलाइट इंडस्ट्रीज शुद्ध बिक्री में 5% सालाना वृद्धि का अनुभव करेगी, जो पहुंच जाएगी। Q2FY24 में 3,160 करोड़ रुपये। इस वृद्धि का श्रेय घरेलू उपभोक्ता और बाजार (सीएंडबी) बिक्री में वृद्धि के साथ-साथ मजबूत बी2बी प्रदर्शन को दिया जाता है। इसके अलावा, कंपनी का कर-पश्चात लाभ (PAT) सालाना आधार पर 39% की प्रभावशाली वृद्धि का अनुमान है, जो Q2FY24 में 464 करोड़ रुपये तक पहुंच जाएगा, जबकि Q2FY23 में यह 332 करोड़ रुपये था।

इसके अतिरिक्त, पिडिलाइट इंडस्ट्रीज के Q2FY24 एबिटा मार्जिन में सालाना आधार पर 515 आधार अंक (बीपीएस) का विस्तार होने की उम्मीद है, जो 21.8% (कंपनी की 20-24% की मार्गदर्शन सीमा के भीतर) तक पहुंच जाएगा। इस विस्तार का श्रेय विनाइल एसीटेट मोनोमर (वीएएम) की कीमतों में सुधार के कारण दिया जाता है, जो चिपकने वाले उत्पादन में उपयोग किया जाने वाला एक प्रमुख घटक है, साथ ही कच्चे डेरिवेटिव की कम लागत भी है।

पिडिलाइट इंडस्ट्रीज में स्वामित्व परिवर्तन और निवेशक अंतर्दृष्टि

सितंबर में समाप्त तिमाही में पिडिलाइट इंडस्ट्रीज के स्वामित्व में उल्लेखनीय बदलाव हुए। प्रमोटरों ने अपनी हिस्सेदारी जून में 69.9% से घटाकर 69.8% कर दी। म्यूचुअल फंडों ने भी अपनी हिस्सेदारी कम कर दी, जून में 3.8% से घटकर सितंबर 2023 में 3.5% हो गई। हालांकि, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने अपनी हिस्सेदारी में मामूली वृद्धि की, पिछली तिमाही में 11.3% से सितंबर में 11.4% हो गई। ये स्वामित्व परिवर्तन पिडिलाइट इंडस्ट्रीज के भविष्य के लिए निवेशकों की भावनाओं और अपेक्षाओं के बारे में मूल्यवान अंतर्दृष्टि प्रदान करते हैं।

अंत में, पिडिलाइट इंडस्ट्रीज Goldman Sachs के अपग्रेड और मजबूत वित्तीय प्रदर्शन उम्मीदों के कारण सकारात्मक गति के दौर का अनुभव कर रही है। जैसे ही कंपनी अपने Q2FY24 परिणाम प्रकट करने की तैयारी कर रही है, निवेशक और विश्लेषक चिपकने वाले निर्माता के स्टॉक पर नजर रखते हुए उत्सुकता से परिणाम का इंतजार कर रहे हैं।

Leave a Reply